“चाणक्य के अनुसार हमे इन सभी पर आसानी से विश्वाश नहीं करना चाहिए। ”

- चाणक्य

“बड़े-बड़े नाखून वाले जीव अर्थात हिंसक प्राणियों पर हमें विश्वाश नहीं करना चाहिए। क्योंकि वो कभी भी हमला कर सकते हैं। ”

- चाणक्य

“विशाल अर्थात बड़ी नदियों पर कभी भी विश्वास नहीं करना चाहिए क्योंकि कोई पता नहीं कि उनके पास जाने पर वह आपको बहा ले जाए।”

- चाणक्य

“बड़े बड़े सींग वाले अर्थात सांड आदि पर कभी भी विश्वाश नहीं करना चाहिए उनका मन बदलने पर वह कुछ भी कर सकते हैं।”

- चाणक्य

“शास्त्र धारण करने वाले अर्थात हथियार लिए हुए व्यक्ति पर कभी भी विश्वास नहीं करना चाहिए। क्योंकि छोटी से बात से वह क्रोध में आकर हथियार का प्रयोग कर सकता है।  ”

- चाणक्य

“राजाओं के कुल के व्यक्तियों यानि राज करने वाले नेताओं पर कभी भी विश्वाश नहीं करना चाहिए। ”

- चाणक्य

“क्योंकि वह नेताओं के कान भरकर अहित करवा सकते हैं। क्योंकि उनके लिए राजहित ही प्रमुख होता है न कि सम्बन्ध”

- चाणक्य

इसी प्रकार की जानकारी के लिए क्लिक करें