“'उस माँ की खोख भी धन्य हो जाती है जो भारत के वीर सिपाही को जन्म देती है !”

“मर कर भी अमर नाम है वीर सिपाही का जिस पर देश को नाज़ है। भारत के हर सिपाही को हमारा शत शत प्रणाम है।”

“निर्बलों का बल है भारतीय सेना ! देश का अहम् है भारीतय सेना”

“देश की महक अब  मेरे कपड़ों से आने लगी है अब तो मेरी धड़कन भी जय हिन्द गाने लगी है।”

“शेरों के पुत्र शेर ही जाने जाते हैं ! लाखों के बीच फौजी पहचाने जाते हैं।”

“न बर्षा में गले, न सर्दी में कांपे, न गर्मी से तपें हम फौजी इस देश की शान है।”

“हमारा तिरंगा इसलिए नहीं फहराता है  कि हवा चल रही  है, ये हर उस जवान कीआखिरी सांस से फहराता है।”

भगत सिंह के अनमोल विचार