You are currently viewing अपरीक्षितकारक (हड़बड़ी में क़दम न उठायें)

अपरीक्षितकारक (हड़बड़ी में क़दम न उठायें)

ब्राह्मण और सत्तुओं की कहानी (Panchatantra Stories In Hindi)

एक नगर में कोई कंजूस ब्राह्मण रहता था। उसने भिक्षा से प्राप्त सत्तुओं में से थोड़े-से खाकर शेष से एक घड़ा भर लिया था। उस …
पढ़े

मेंढक और मछलियों की कहानी (Panchatantra Short Stories In Hindi With Moral)

एक तालाब में दो मछलियाँ रहती थीं। एक थी शतबुद्धि (सौ बुद्धियोंवाली) दूसरी थी सहस्रबुद्धि (हजार बुद्धिवाली)। उस तालाब में एक मेढक भी रहता था …
पढ़े

चार मूर्ख ब्राह्मणों की कहानी (Panchatantra Short Stories In Hindi With Moral)

एक स्थान पर चार ब्राह्मण रहते थे। चारों विद्याभ्यास के लिए कान्यकुब्ज गए। निरन्तर बारह वर्ष तक विद्या पढ़ने के बाद वे सम्पूर्ण शास्त्रों के …
पढ़े

मूर्ख वैज्ञानिकों की कहानी (Panchatantra Stories In Hindi Short)

एक नगर में चार मित्र रहते थे। उनमें से तीन बड़े वैज्ञानिक थे, किन्तु बुद्धि रहित थे; चौथा वैज्ञानिक नहीं था, किन्तु बुद्धिमान् था। चारों …
पढ़े

ब्राह्मण और नेवले की कहानी (पंचतंत्र की कहानियां हिंदी में)

एक बार एक ब्राह्मण के घर उसके पुत्र के जन्म होने के साथ-साथ एक नकुली ने भी नेवले को जन्म दिया। ब्राह्मणी और ब्राह्मण ने …
पढ़े

rahul kumar

हैलो दोस्तों मेरा नाम राहुल है और मुझे नई नई कहानिया सुनना और सुनाना पसंद है इसलिए मैं इस ब्लॉग कि सहायता से आप लोगो तक कहानियां पहुंचता हूँ। आप इस वेबसाइट पर हर तरह की कहानियां पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply